Tuesday, 21 July 2015

गले की सुजन 


  1. रात को अरहर की डाल पानी में भिगो दे ! सुबह इस पानी को गर्म करके गरारे करने से गले की सुजन दूर होती है !
  2. 20 ग्राम तुलसी की मंजरी ( बीज ) और सेंधे नमक को पीसकर चूर्ण बना ले ! इस चूर्ण की दो – दो चुटकी चूर्ण सुबह – शाम करने से गले की सुजन में आराम मिलता है !
  3. मुलेठी के आधे चम्मच चूर्ण में आधा चम्मच शहद मिलाकर चाटने से बैठा हुआ गला ठीक हो जाता है !
  4. 2 ग्राम कलि मिर्च तथा 5 ग्राम मिश्री मिलाकर खाने से गले की हर बीमारी ठीक हो जाती है !

0 comments:

Post a Comment

Followers

Powered by Blogger.

अमूल्य कथन

1 Amla a day = No Doctor
1 Lemon a day = No Fat
3 liters of Water per day = No Diseases
5 Tulsi Leafs a day = No Cancer
1 Cup milk a day = No bone Problem

Popular Posts